राहुल गांधी: युवा न्याय- भर्ती भरोसा, पहली नौकरी पक्की, पेपर लीक से मुक्ति, सामाजिक सुरक्षा और युवा रोशनी

भारत जोड़ो न्याय यात्रा का आज 54वां दिन था। मध्यप्रदेश के रतलाम से यात्रा शुरू हुई राजस्थान के बांसवाड़ा की तरफ निकल पड़ी। दोपहर को बांसवाड़ा में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और कांग्रेस नेता राहुल गांधी एक जनसभा को संबोधित करने का कार्यक्रम निश्चित था। बांसवाड़ा पहुंचने पर सबसे पहले समारोह स्थल पर मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष को राष्ट्रीय ध्वज सौंपकर यात्रा के राजस्थान में प्रवेश की आधिकारिक घोषणा की। मंच पर राजस्थान कांग्रेस और मध्यप्रदेश कांग्रेस के बड़े नेता मौजूद थे। मल्लिकार्जुन खरगे और राहुल गांधी के स्वागत के बाद जनसभा को संबोधन का कार्यक्रम शुरू हुआ। कांग्रेस अध्यक्ष के बोलने के पहले किसी को अंदाजा भी नहीं था कि कांग्रेस पार्टी की तरफ से चुनाव के लिए एक और गारंटी की घोषणा कर दी जाएगी। हालांकि विभिन्न मीडिया चैनल इस बात के कयास कल से ही लगा रहे थे कि राहुल गांधी युवाओं के लिए कोई बड़ी घोषणा करने वाले हैं।

जनसभा को सबसे पहले कांग्रेस अध्यक्ष ने संबोधित किया। अपने संबोधन की शुरूआत उन्होंने बीजेपी के शासन काल में दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों पर हो रहे अत्याचार को लेकर सत्तापक्ष को कटघरे में खड़ा करके किया। उन्होंने कहा- ‘इस देश में हमने जो कार्यक्रम पहले भी बनाए थे, उसे आज भी कांग्रेस पार्टी आगे ले जाना चाहती है। लेकिन बीजेपी की सोच क्या है वो देखिए, असम का सीएम कहता है कि चंद जातियों की सेवा करना शुद्रों का कर्तव्य है। हम अगर सेवा करते हैं तो आप क्या मेवा खाने के लिए बैठे हैं? आप देश के लिए क्या कर रहे हैं। ये लोग तो श्रमिक हैं, शूद्र वर्ग पूरा श्रमिक है, लेकिन आप तो मेवा खाने बैठे हो। राम नाम जपना, पराया माल अपना। इसलिए हमें ये ध्यान में रखना चाहिए कि संविधान बचेगा, लोकतंत्र बचेगा तो ही आपलोग बच सकते हैं। नहीं तो फिर से हमलोग आदिवासी बनकर जंगलों में रहेंगे। पढ़े लिखेंगे नहीं, ऑफिसर बनेंगे नहीं, पैसा कमाएंगे नहीं और शूद्र गांवों में काम करते रहेंगे, मैला उठाते रहेंगे।’

‘मोदी जी इनके बारे में कुछ नहीं बोले। बहुत बड़ा राम मंदिर बनाए हैं। लेकिन मैं पूछता हूं कि इतने बड़े मंदिर में एक आदिवासी राष्ट्र की अध्यक्ष मुर्मू को क्यों नहीं बुलाए? बातें तो बहुत कर रहे हो कि कांग्रेस वाले नहीं आए, ये किए वो किए लेकिन आपने राष्ट्रपति को क्यों नहीं बुलाया? जब नई संसद का उद्घाटन हुआ तब क्यों नहीं बुलाया? क्योंकि वो अपवित्र होता है। ये तुम्हारी सोच है। जब नई संसद की बुनियाद डाली तब दलित राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को नहीं आने दिया। और आप बात बड़ी बड़ी करते हैं। पहले तो आप लोगों को अपने साथ लो, शूद्रों, गरीबों, किसानों, युवाओं, महिलाओं को अपने साथ लो। उनको तो आप साथ नहीं लेते और टीका करके घर-घर घूमते रहते हो। दिन में तीन-तीन मीटिंग करते हैं, पूरा हिंदुस्तान मेरा परिवार है ये बोलते फिर रहे हैं, लेकिन हिंदुस्तान की भलाई के लिए क्या कर रहे हैं? लेकिन आप हमेशा सोचते हैं RSS-BJP के लिए क्या करना है। जनता अब होशियार हो गई है।’

कांग्रेस ने अपने शासनकाल में देश के विकास के लिए कई कार्य किए। समाज के उत्थान के लिए कई कदम उठाए लेकिन बीजेपी की सरकार हर उस विकास कार्य को बंद कराने पर तूली हुई है। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस पार्टी के मैनिफेस्टो की बहुत बड़ी गारंटी और युवाओं के हक़ को आगे बढ़ाने की घोषणा कर दी। उन्होंने कहा- ‘हम युवाओं के लिए पांच घोषणाएं करते हैं। युवा के बीच से बेरोजगारी को खत्म करना है। युवा को आगे बढ़ाना है।

  1. 1. युवाओं के लिए (भर्ती भरोसा)

    कांग्रेस की ये गारंटी देश के युवाओं के लिए हैं। इसमें सभी युवाओं को भर्ती का भरोसा देते हैं। सराकारी नौकरियों की खाली जगहों को भरेंगे।

  2. 2. पक्की नौकरी (पहली नौकरी पक्की)

    कॉन्ट्रेक्ट के रोजगार, सेना में अग्निवीर से मुक्ति दिलाएंगे।

  3. 3. पेपर लीक से मुक्ति (पेपर लीक से मुक्ति)

    आज देश में ये हालात है कि सालों तक भर्ती नहीं निकलती। भर्ती निकलती है तो पेपर लीक हो जाता है।

  4. 4. गिग इकॉनमी से सामाजिक सुरक्षा (गिग इकॉनॉमी के लिए सामाजिक सुरक्षा)

    ट्रक ड्राइवर, मैकेनिक, कारपेंटर, टैक्सी ड्राइवर, डिलीवरी ब्वॉय जैसे लोगों की आमदनी बढ़ाने और उन्हें आर्थिक न्याय देना।

  5. 5. युवा रोशनी (युवा रोशनी)

    इसके तहत 5 हजार करोड़ की सहायता राशि का एक फंड बनाया जाएगा और उसे हर जिले में दिया जाएगा क्योंकि युवाओं को एक दिशा दिखाना है।

हमारी गारंटी पक्की होती है। मोदी जी जैसी नहीं।’

उनके संबोधन के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उपस्थित लोगों को संबोधित किया। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान किसानों की मांग को ध्यान में रखते हुए किसानों के लिए MSP की लीगल गारंटी पर बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा- भारत जोड़ो यात्रा के दौरान उस साल मैंने सबसे ज्यादा लोगों से बात की। यात्रा के दौरान हम 8 घंटे पैदल चलते थे, लोग आते थे, हमसे जुड़ते थे और अपनी समस्याएँ बताते थे। उस दौरान किसानों ने अपनी बात रखी। और उनकी बात सुनकर हमने अपने मैनिफेस्टो में उनके लिए एक क्रांतिकारी काम किया है। किसानों की MSP के लिए लीगल गारंटी की घोषणा कांग्रेस पार्टी ने कर दी है।’

जाति के आधार पर देश में होने वाले भेदभाव के बारे में बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा- ‘जाति जनगणना की मैंने बहुत बात की है। देश में करीब 50% पिछड़े वर्ग, 8% आदिवासी, 15% दलित और तकरीबन 15% अल्पसंख्यक हैं। सब मिलाकर करीब 90% हिंदुस्तान की आबादी हैं इसमें 5% और गरीब जनरल कास्ट के लोगों को मिला लीजिए। लेकिन अगर हम हिंदुस्तान के बजट को देखें, तो इनकी भागीदारी कहीं भी नहीं दिखती। हमारी राष्ट्रपति आदिवासी हैं इसलिए उन्हें राम मंदिर के उद्घाटन में नहीं बुलाया गया। राम मंदिर के उद्घाटन में देश के नामी गिरामी लोग थे, लेकिन एक गरीब नहीं था, बेरोजगार नहीं था, दलित नहीं था। हमारे देश में दो हिंदुस्तान बने हुए हैं।’.’

युवा के पांच न्याय की बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा- ‘भारत जोड़ो यात्रा में सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी थी। युवा आते थे मैं उनसे पूछता था क्या करते हो, वो कहते थे- राहुल जी बीटेक किया, मेडिसिन पढ़ी, लेकिन नौकरी नहीं है। दिल्ली रेलवे स्टेशन पर एक युवा कुली का काम कर रहा था। उसने सिविल इंजीनियर की पढ़ाई की थी। लेकिन कुली का काम कर रहा है। आज मैं आपको ये बताना चाहता हूं कि हिंदुस्तान के आदिवासी, दलित, पिछड़े वर्ग, गरीब जनरल कास्ट के युवाओं के लिए कांग्रेस पार्टी क्या करने जा रही है।

  1. 1. युवाओं के लिए (भर्ती भरोसा)‎ सबसे पहला कदम हमने गिनती की है, हिंदुस्तान में 30 लाख सरकारी वैकेंसी है। बीजेपी इनको भर्ती नहीं है। सरकार में आने के बाद हमारा सबसे पहला कदम ये होगा कि 90 प्रतिशत युवाओं को हम 30 लाख रोजगार दे देंगे।
  2. 2. पक्की नौकरी (पहली नौकरी पक्की): दूसरा काम, हम मनरेगा प्रोग्राम लाए थे। रोजगार का अधिकार। लाखों लोगों को फायदा हुआ। हमने अधिकार दिया। वैसे ही हम हिंदुस्तान के सभी युवाओं को Apprenticeship का अधिकार देंगे। ये अधिकार हर ग्रैजुएट/ हर डिप्लोपा होल्डर को मिलेगा। कॉलेज, यूनीवर्सिटी डिप्लोमा के एकदम बाद एक साल के लिए हर ग्रैजुएट को प्राइवेट कंपनी, सरकारी ऑफिस में एक साल की Apprenticeship दी जाएगी। और एक लाख रूपए एक साल में उस युवा को दिया जाएगा। इससे देश में करोड़ों युवाओं को फायदा होगा, ट्रेनिंग मिलेगी और पहले साल का रोजगार मिलेगा।
  3. 3. पेपर लीक से मुक्ति (पेपर लीक से मुक्ति): पेपर लीक के खिलाफ एक कानून लाएँगे। इसमें हम एक्जाम दिलवाने का तरीका स्टैंडर्ड बना देंगे। एक्जाम आउटसोर्स नहीं होगा और सरकारी संस्था एक्जाम लेगी। इसके बाद अगर पेपर लीक हुआ तो कड़ी कानूनी कार्यवाही होगी।
  4. 4. गिग इकॉनमी से सामाजिक सुरक्षा (गिग इकॉनॉमी के लिए सामाजिक सुरक्षा): Gig वर्कर मतलब ऐसे युवा जो ओला, उबर, डिलीवरी का काम करते हैं। राजस्थान में हमने इनकी रक्षा, सोशल सिक्योरिटी, पेंशन के लिए कानून बनाया था, वो कानून हम पूरे देश में लागू करने जा रहे हैं।
  5. 5. युवा रोशनी (युवा रोशनी): मोदी जी ने मेक इन इंडिया किया, स्टार्टअप इंडिया किया लेकिन उसका फायदा कुछ नहीं हुआ। वो सारा का सारा पैसा दो तीन अरबपति उठाकर ले गए। बस मोदी जी की मार्केटिंग कर दी, लेकिन युवा को न पैसा मिला न ही स्टार्टअप मिला। हमने युवाओं के लिए 5000 करोड़ का स्टार्ट-अप के लिए एक फंड बनाया है। ये फंड हर डिस्ट्रीक्ट में रहेगा। दस करोड़ रूपए स्टार्ट-अप और गरीबों को दिया जाएगा। गरीब युवा अगर अपना छोटा सा बिजनेस करना चाहते हैं तो उनकी मदद के लिए ये किया जा रहा है।

ये हम आपके लिए करने जा रहे हैं। आदिवासियों की जल जंगल और जमीन की लड़ाई हमारी लड़ाई है। आपके साथ हम खड़े हैं। आपके लिए हम पेसा कानून लाए, जमीन अधिग्रहण बिल लाए। आपकी शिक्षा, स्वास्थ्य के लिए हम जो भी कर पाए वो करेंगे और दिल से करेंगे।’

इस संबोधन के बाद यात्रा गुजरात के दामोद की ओर निकल पड़ी। यहां पर न्याय यात्रा के स्वागत समारोह का आयोजन किया गया था। राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष ने गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष को राष्ट्रीय ध्वज सौंपकर यात्रा के गुजरात में पहुंचने की घोषणा कर दी। यहां पर भी हजारों कार्यकर्ता और समर्थकों की भीड़ राहुल गांधी के इंतजार में बैठी थी। राहुल गांधी ने आर्थिक, सामाजिक न्याय की बात की। देश के दो सबसे बड़े मुद्दे महंगाई और बेरोजगारी पर बात की। जनसभा में लोगों को बताया कि कैसे अदानी का घर भरने के लिए हम लोगों के पॉकेट से पैसा निकाल कर सरकार उधर ट्रांसफर कर रही है।

इसके बाद यात्रा रात्रि विश्राम के लिए कैंप की तरफ निकल पड़ी।

“देश का कोई भी व्यक्ति, जो अपने ऊपर अन्याय महसूस कर रहा है, जिसके ऊपर किसी भी तरह का अन्याय हो रहा है, वो न्याय योद्धा बन सकता है। अगर आप भी न्याय योद्धा बनना चाहते हैं तो 9891802024 पर मिस्ड कॉल करें।”

शेयर करें

Comments (5)

  1. Davalsab

    Name davalsab kavital dt raichur state Karnataka India 584120 my congress party my no job you request

एक टिप्पणी छोड़ें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *