राहुल गांधी: छात्रों का हथियार है जाति जनगणना

भारत जोड़ो न्याय यात्रा का आज 36वां दिन था। कल अचानक वायनाड जाने के कारण आज की यात्रा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी प्रयागराज से जुड़ पाए। यहां उन्होंने आनंद भवन से अपना रोड शो शुरू किया जो मनमोहन पार्क, नतराम चौराहा होते हुए लक्ष्मी चौराहा पहुंचा। लक्ष्मी चौराहा पर श्री राहुल गांधी ने हजारों समर्थकों को संबोधित किया। अपने संबोधन में आज फिर से उन्होंने युवाओं के बीच अन्याय के विरूद्ध न्याय के जीत की अलख जगाई।

उन्होंने कहा- ‘आपके साथ जो हो रहा है, ये जो परीक्षा के पेपर लीक हो रहे हैं ये अन्याय है। और ये अन्याय आपके प्रधानमंत्री कर रहे हैं। संगम की पवित्र धरती पर युवाओं पर अत्याचार किया जा रहा है। उत्तरप्रदेश के युवाओं को भड़काया जा रहा है। प्राइवेट कॉलेजों और यूनीवर्सिटी के मालिकों में एक भी ओबीसी, आदिवासी मालिक नहीं हैं, आप लोगों को बेवकूफ बनाया जा रहा है। जग जाओ, खड़े हो जाओ। छात्रसंघ के चुनाव होते थे, उसको बंद कर दिया है ताकि आपकी शक्ति छीन लें। हमारी ये न्याय यात्रा इसलिए ही है। आपका साथ देने के लिए है। लेकिन आप अपना हक मांगो। डरने की कोई बात नहीं है। ये देश आपका है। आपके पास एक हथियार है। जाति जनगणना का हथियार। आपको सबसे पहले पता लगाना है कि आपकी आबादी कितनी और फिर ये पता लगाना है कि इस देश के धन में आपकी भागीदारी कितनी।’

राहुल गांधी के बात में, विचार में एक रोष था, हजारों बेरोजगार छात्रों के दु;ख को देखकर, उनके साथ होने वाले अन्याय के प्रति गुस्सा था। युवाओं का उन्होंने आह्वान किया कि वो अपने अधिकारों के प्रति सजग हो जाएं।

इसके पहले न्याय यात्रा का काफिला बनारस से इलाहाबाद की तरफ निकला। कांग्रेस के महासचिव जयराम रमेश ने सारनाथ की एक फोटो डालते हुए अपने एक्स (ट्विटर) पर पीएम मोदी के सेल्फी प्वाइंट पर कटाक्ष किया। उन्होंने लिखा- ‘पवित्र सारनाथ पार्क में भी प्रधानमंत्री सेल्फी प्रचार योजना (PM-SPY) लागू की जा रही है।अहंकाराचार्य की हरकतों की कोई सीमा नहीं है।’

न्याय यात्रा आज की रात प्रयागराज में ही रूकेगी। कल से वापस यात्रा अपने नियम के अनुसार चल पड़ेगी।

“देश का कोई भी व्यक्ति, जो अपने ऊपर अन्याय महसूस कर रहा है, जिसके ऊपर किसी भी तरह का अन्याय हो रहा है, वो न्याय योद्धा बन सकता है। अगर आप भी न्याय योद्धा बनना चाहते हैं तो 9891802024 पर मिस्ड कॉल करें।”

शेयर करें

एक टिप्पणी छोड़ें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *