Day 20: उनके पास धन और एजेंसियां हैं, हमारे साथ जनता है

भारत जोड़ो न्याय यात्रा का बीसवां दिन उतार चढ़ाव भरा रहा। दरअसल आज बंगाल शिक्षा बोर्ड के दसवीं की परीक्षा होनी थी। इसे देखते हुए कांग्रेस नेता श्री राहुल गांधी ने यात्रा को 2 बजे तक के लिए स्थगित करने का फैसला लिया। श्री गांधी नहीं चाहते थे कि यात्रा की वजह से बच्चों की परीक्षा में किसी तरह का व्यवधान पड़े।

यात्रा के इस ब्रेक में श्री गांधी ने यात्रा कवर करने आए पत्रकारों के साथ बातचीत करने और साथ ही बंगाल कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी की टांग खिंचाई करने जैसे हल्के फुल्के बातों में बिताए। पत्रकारों ने श्री गांधी को बताया कि,‘अगर बच्चों का वोटर कार्ड होता तो सबसे ज्यादा वोट पड़ते। आपका क्रेज हमने पहली बार देखा। आप सच में युवा नेता हैं। आप अब बंगाल के राहुल दा हो गए हैं।’

वहीं श्री गांधी ने अपने बगल में बैठे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की चुटकी लेते हुए कहा कि, ‘मुझे इन्होंने मिष्टी दोई नहीं खिलाई, मुझे बहुत पसंद है मिष्टी दोई।’ वीडियो में देखें श्री गांधी, श्री चौधरी और पत्रकारों के बीच की प्यारी नोंक-झोंक भरी बातचीत।

मीठी बातें तो बहुत हुईं, मगर दादा ने मिष्टी दोई नहीं खिलाई - पश्चिम बंगाल के पत्रकारों के साथ मज़ेदार नोक झोंक और बातें। #BharatJodoNyayYatra

Posted by Rahul Gandhi on Friday, February 2, 2024

यात्रा 2 बजे शुरू हुई और झारखंड की सीमा की ओर चल पड़ी। रास्ते में श्री गांधी मनरेगा कर्मियों से मिले। इन्होंने अपनी परेशानी श्री गांधी को बताई। इन मजदूरों को पिछले दो साल से अपनी मेहनत का पैसा नहीं मिला है। क्योंकि केंद्र की भाजपा सरकार, पश्चिम बंगाल सरकार को फंड ही नहीं दे रही। ये है इनका सबका साथ, सबका विकास! मजदूरों ने श्री गांधी के साथ फोटो खिंचवाने की भी गुजारिश की जिसे कांग्रेस नेता ने सहर्ष स्वीकार कर लिया।

भारत जोड़ो न्याय यात्रा के तहत् न्याय योद्धा बनने वाले लोगों से भी श्री गांधी मिले और उनके साथ फोटो खिंचवाई। साथ ही अन्याय के खिलाफ न्याय की इस लड़ाई में कांग्रेस का साथ देने के लिए श्री गांधी ने उनको धन्यवाद भी दिया। इसके बाद श्री गांधी की कार यात्रा झारखंड सीमा की तरफ चल पड़ी।

शाम को यात्रा बीरभूमि से झारखंड के पाकुड़ पहुंच गई। हिरणपुर, पाकुड़ में ध्वज हस्तांतरण का कार्यक्रम हुआ। इसमें बंगाल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने झारखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को राष्ट्रीय ध्वज हस्तांतरित कर यात्रा के झारखंड प्रवेश की घोषणा कर दी।

बंगाल और बिहार की तरह झारखंड में भी हजारों लोगों की भीड़ भारत जोड़ो न्याय यात्रा और श्री राहुल गांधी का बेसब्री से इंतजार कर रही थी। ध्वज हस्तांतरण के बाद श्री गांधी ने उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया। एक बार फिर उन्होंने कांग्रेस के पांच न्याय के सिद्धांत के बारे में लोगों को बताया। साथी ही झारखंड में तख्तापलट की कोशिश को नाकाम करने के लिए बधाई भी दी।

श्री गांधी ने कहा- ‘आपने जो सरकार चुनी थी, उस सरकार को बीजेपी ने चोरी करने की कोशिश की। उसको उखाड़ने की कोशिश की। उनकी साजिश को हम सभी ने मिलकर नाकाम किया और आज हमारे नए सीएम साहब यहां कार्यक्रम में हमारे साथ आए हैं। लड़ाई विचारधारा की है। उनके पास धन है, सारी की सारी एजेंसियां हैं, जितना दबाव डालने की कोशिश कर सकते हैं करें, हमें कोई फर्क नहीं पड़ता। हम बीजेपी से डरने वाले नहीं हैं। मैं झारखंड की जनता को बधाई देना चाहता हूं कि आप डरे नहीं, डटे रहे और अपनी सरकार बचा ली।’

संबोधन के बाद यात्रा जोगेश्वर की तरफ चल पड़ी जहां पर काफिले के रात्रि विश्राम की व्यवस्था की गई थी।

“देश का कोई भी व्यक्ति, जो अपने ऊपर अन्याय महसूस कर रहा है, जिसके ऊपर किसी भी तरह का अन्याय हो रहा है, वो न्याय योद्धा बन सकता है। अगर आप भी न्याय योद्धा बनना चाहते हैं तो 9891802024 पर मिस्ड कॉल करें।”

शेयर करें

एक टिप्पणी छोड़ें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *